पथ के साथी

Sunday, August 14, 2022

तिरंगा प्यारा

डॉ. सुरंगमा यादव


तिरंगा प्यारा है
स्वाभिमान हमारा
इसकी खातिर मिट जाएँ
सौभाग्य हमारा है
सरहद पर लहराता है
शत्रु सदा घबराता है
वीर जवानों के तन-मन का



भूषण प्यारा है
हर घर ये लहराएगा
कोटि कंठ जय गाएगा
इसके रंग में रँगा हुआ
भूमण्डल सारा है
प्रेम-सुधा बरसाता है
सबको गले लगाता है
एक सूत्र में हमको बाँधे
जन-गण दुलारा है


9 comments:

  1. बेहतरीन रचना, स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ ।

    ReplyDelete
  2. सुंदर कविता।

    स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    सादर

    ReplyDelete
  3. देश के राष्ट्रीय ध्वज के प्रति सुंदर भावनाओं का प्रकटाव। - परमजीत कौर 'रीत'

    ReplyDelete
  4. सुंदर रचना सुरँगमा जी! स्वतंत्रता दिवस की सबको शुभकामनाएँ!!

    ReplyDelete
  5. वाह्ह्ह अत्यंत सुंदर 🌹🌹🌹🌹🙏

    ReplyDelete
  6. अमृत महोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएँ । अपने तिरंगे ध्वज पर हमें अभिमान है ।बहुत सुन्दर कविता की बधाई ।

    ReplyDelete
  7. बहुत सुंदर कविता। बधाई। सुदर्शन रत्नाकर

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर! स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ~सादर
    अनिता ललित

    ReplyDelete